(रजिस्ट्रेशन) जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, लाभ और पात्रता

0
279

जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी ने 26 दिसम्बर 2020 को वर्चुअल तरीके से किया. यह योजना प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के समान्तर चलेगी. आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना के ज़रिये शेष एक करोड़ लोगों कवर किया जाएगा. जम्मू-कश्मीर देश का पहला राज्य बन गया है जहां इस योजना का लाभ प्रदेश के सभी नागरिकों मिलेगा. आयुष्मान भारत योजना देश के अन्य राज्यों में भी लागू है लेकिन वहां केवल गरीब परिवारों को ही इसका लाभ मिलता है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में हर नागरिक को 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा. यहां के लोगों को इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी भी पैमाने से नहीं गुजरना होगा. यहां के लोग जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत PM JAY सेहत गोल्डन कार्ड के ज़रिये अपना ईलाज करवा सकते हैं. दोस्तों आप इस आर्टिकल के माध्यम से जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना से जुड़ी सभी जानकारी हासिल कर सकते हैं जिसमें आवेदन, दस्तावेज़, पात्रता शामिल है.

आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना

SEHAT योजना का मतलब सोशल एंडेवर फॉर हेल्थ एंड टेलीमेडिसिन (Social Endeavour for Health and Telemedicine) है. यह केंद्र शासित प्रदेशों के लिए शुरू की गई स्वास्थ्य बीमा योजना है. इसका उद्देश्य प्रदेश के नागरिकों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना है साथ इसके ज़रिये प्रदेश के सभी नागरिकों और समुदायों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं कम पैसे में उपलब्ध होंगी. आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना जम्मू-कश्मीर के सभी लोगों को मुफ्त बीमा की सुविधा उपलब्ध कराएगी. इसके तहत 5 लाख रुपए बीमा कवर किया जाएगा.यह प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के साथ काम करेगी. इसकी ख़ास बात यह कि इससे देश के किसी भी हिस्से में पोर्टेबल किया जा सकेगा. अभी तक आयुष्मान भारत योजना का लाभ प्रदेश के 6 लाख परिवारों को मिल रहा था लेकिन आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना का लाभ प्रदेश के 21 लाख से ज़्यादा परिवारों को मिलेगा.

योजना क्या शामिल है

आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना के तहत प्रदेश के नागरिक 229 सरकारी अस्पताल और 35 प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त ईलाज करवा सकते हैं. यही नहीं प्रदेश के लोग देशभर के किसी भी अस्पताल में सेहत कार्ड के ज़रिये ईलाज करा सकते हैं. इस योजना में ऑन्कोलॉजी, कार्डियोलॉजी, नेफ्रोलॉजी जैसे इलाज प्रक्रियाएं शामिल होंगी.

गोल्डन कार्ड की पात्रता

जम्मू-कश्मीर के सभी लोग आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना का लाभ उठाने के हक़दार होंगे. प्रदेश का हर व्यक्ति चाहे वह गरीब परिवार, सामान्य परिवार और अमीर परिवार से संबंध रखता हो, अपना ईलाज इस योजना के तहत करा सकता है. प्रदेश का हर नागरिक चाहे वह किसी भी समुदाय से संबध रखता हो इसका लाभ लेने का हक़दार है. प्रदेश का निवासी चाहे उसकी आय कितनी भी क्यों न हो, इसका लाभ के सकता है.

योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज

आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना का लाभ उठाने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेजों का होना ज़रूरी है.

  1. इस योजना का लाभ लेने के पात्र केवल जम्मू-कश्मीर के लोग ही होंगे  
  2. आवेदक जम्मू-कश्मीर का निवासी होना चाहिए
  3. आधार कार्ड
  4. पहचान पत्र
  5. निवास प्रमाण पत्र
  6. बैंक अकाउंट पास बुक
  7. मोबाइल नंबर
  8. पासपोर्ट साइज़ फ़ोटो
योजना क्लेम

इसके तहत क्लेम करने के लिए इसकी ऑफिसियल वेबसाइट  https://pmjay.gov.in/resources/documents विभन्न गाइड लाइन हैं जिन्हें पढ़कर क्लेम किया जा सकता है.

गोल्डन कार्ड बनाने के लिए आवेदन कैसे करें

आयुष्मान भारत PM JAY सेहत योजना कार्ड बनाने के ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है. इसके लिएhttps://pmjay.gov.in/ऑफिसियल वेबसाइट पर आवेदन करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here